Sunday, October 23, 2016

विरेन्द्र

1. वक्त ये अनमोल है, नहीं इसका कोई मोल ।
   जो इसका मोल लगाये , जिन्दगी उसकी अनमोल ।
   वक्त ये अनमोल है, नहीं इसका कोई मोल
   जो इसका मोल समझे , जिन्दगी उसकी अनमोल ।


2. आज हमें आ गई,  खासियत हमारी याद ।
दुनिया भुला देंगे,  जिगर ए अन्दाज ।।

गजल एक भारती