Thursday, March 23, 2017

महादान


रक्तदान नहीं  है ये, 
ये है महादान ।
पैसे से भी बड़ा दान ये, 
ये श्रम से भी बड़ा दान ।।
इक जीवन के लिए , 
ये है दानों का दान ।।
इसका मोल नहीं  कोई , 
ये बड़ा  अनमोल है ।
जो इसका मोल लगाये , 
जिंदगी उसकी बेमोल है।।
यह बचाता है  कई जीवन , 
दिखाता  अपनी करामात  है।
काम इसका अमूल्य  है, 
ये बड़ा बहुमूल्य है।।
इसीलिए  रक्त  दान  करो,
  महादान  करो ।
किसी की जिंदगी बचाओ ।।
लेखक  और  निवेदक  विरेन्द्र भारती 
 8561887634

गजल एक भारती